Monday, 4/7/2022 | 2:32 UTC+0
Breaking News, Headlines, Sports, Health, Business, Cricket, Entertainment

राहुल गाँधी को कांग्रेस की बागडोर सौंपी जा सकती है

rahul-gandhi

इन दिनों कांग्रेस में काफी संगठनात्मक फेर बदल की तैयारी चल रही है। कांग्रेस पार्टी के मुख्य कार्यकर्ता इसके नेतृत्व के लिए कड़ी मशक्कत कर रहें है। उम्मीदे जताई जा रही है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनाया जाए। इसके साथ ही कार्यरत महासचिवों की जिम्मेदारी में कई बदलाव किया जा सकता है। कई सचिवों की छुट्टी की सम्भावना भी जताई जा रही हैं। करीबी सूत्रों के अनुसार कांग्रेस के संगठन के साथ-साथ पार्टी की चिंता का विषय उत्तर प्रदेश में कांग्रेस सरकार को बनाये रखना।

इस क्रम में उत्तरप्रदेश कांग्रेस प्रमुख अध्यक्ष निर्मल खत्री के बारे में नकारात्मक तीन बातें जा रही हैं। इसमें सबसे पहली तो यह बात है कि अध्यक्ष निर्मल खत्री कार्यकर्ताओं, जनता और पार्टी नेताओं को अपना आवश्यक समय नहीं दे पाते थे। वही दूसर ओर उनका स्वास्थ्य भी काफी समय से ठीक नहीं चल रहा है और तीसरा, प्रदेश के अध्यक्ष रहते हुए निर्मल खत्री को यूपी कांग्रेस में उनके कार्यरत रहने या ना रहने का एहसास नहीं हो रहा। दरअसल कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और राज्य के महासचिव मधुसूदन मिस्त्री निर्मल खत्री को पसंद करते हैं। मिस्त्री नहीं चाहते है की निर्मल खत्री के पद स्थान में कोई परिवर्तन न किआ जाये, उन्होंने अपनी राय पहले ही बता दी है।

इसी दौरान कुछ अन्य युवा नेताओं ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी की जिम्मेदारी उठाने में अपने आप को समर्थवान बताया है। हालांकि उसमे मौजूद कुछ ने कांग्रेस अध्यक्ष और उपाध्यक्ष से मुलाकात क समय ही  उन्हें अपने संकल्प के बारे में बता दिया है। ऐसे में देखा जा सकता है की जल्द ही कांग्रेस सरकार अपने केंद्रीय नेतृत्व को सुधारे के लिए यूपी में शामिल उनके कई पदों की फेर बदल कर सकता है। इसके अलावा पार्टी के प्रचार अभियान समिति समेत कई अन्य घोषणा की जा सकती है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल संगठन में सुधार के क्रम में केंद्रीय संगठन को अधिक युवा से जोड़ना चाहते हैं।

खबरों के अनुसार अब शीर्ष नेतृत्व कांग्रेस की बड़ी जिम्मेदारी उपाध्यक्ष राहुल गांधी  देने पर विचार कर रहे है। इसके पृष्ठभाग को तैयार किया जा रहा  है। उम्मीद है कि अगले माह तक इस विषय पर बड़ी घोषणा हो सकती है। कई महासचिवों को संगठन में अपनी सलाह व मशिवरा देने के अलावा कई युवा नेताओ को भी इसका अवसर दिया गया है। अब कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में इस बदलाव के बाद प्रस्ताव पारित कर राहुल गाँधी को नई बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है। इस समय अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (एआईसीसी) के प्लेनरी सेशन में राहुल गांधी को कांग्रेस कांग्रेस अध्यक्ष बनाने की पूरी तैयारी की जा सकती है।

Advertisment

POST YOUR COMMENTS

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2020 News18Network | Derben Clove by News18Network Our Partner Indian Business And Mobile Technology