Monday, 4/7/2022 | 3:53 UTC+0
Breaking News, Headlines, Sports, Health, Business, Cricket, Entertainment

मीना कुमारी को देखकर डायलॉग भूल जाते थे राजकुमार

Raj-Kumar

जब ट्रेन ने सीटी बजाई और अंधेरी रात में आगे बढ़ने लगी। गहरी नींद में डूबी अभिनेत्री मीना कुमारी को पता भी नहीं चला कि एक अजनबी उनके कंपार्टमेंट में घुस गया है और मीना कुमारी के मेहंदी लगे पांवों को देख उनका दीवाना हो गया। एक पर्चे पर अजनबी लिखता है कि, “आपके पांव बहुत हसीन हैं इन्हें जमीन पर मत उतारना, नहीं तो ये मैले हो जाएंगे।” उस पर्चे को मीना कुमारी के पैरों की उंगलियों में फंसाकर आगे स्टेशन पर उतर गया। फिल्म ‘पाकीजा’ के इस सीन में यह अजनबी थे एक्टर राजकुमार। अभिनेता राजकुमार जो फिल्मों में अपनी खास संवाद अदायगी की वजह से जाने जाते है। हालांकि मीना कुमारी का नाम कई लोगों से जोड़ा गया। माना जाता है कि फिल्म ‘बैजू बावरा’ के निर्माण के दौरान नायक भारत भूषण ने भी अपने प्यार का इजहार मीना से किय था।

मीना कुमारी से राजकुमार को इतना इश्क हो गया था कि वह मीना के साथ सेट पर काम करते समय अपने संवाद को ही भूल जाते थे। बस वह मीना कुमारी के चहरे की तरफ ही देखते रहते थे। फिल्म ‘पकीजा’ के लिए पहले धर्मेंद्र को साइन किया गया था, लेकिन उन समय मीना और धर्मेंद्र के अफेयर के चर्चे हर किसी की जुबान पर थे और इससे चिढ़कर कमाल ने धर्मेंद्र को फिल्म ‘पाकीजा’ से निकालकर उनकी जगह राजकुमार को दे दी। लेकिन यहां भी कमाल के साथ धोखा हो गया। राजकुमार का दिल भी मीना कुमारी पर आ गया। कहा जाता हैं कि मीना कुमारी के साथ ट्रेन वाले सीन को करते हुए राजकुमार ने जब पहली बार मीना के पैरों को करीब से देखा तो वह उनकी खूबसूरती के मुरीद हो गए थे।

कमाल अमरोही को राजकुमार से भी नफरत होने लगी थी और इसी वजह से उन्होंने फिल्म में दोनों के बहुत ही कम सीन साथ में करवाए। लेकिन फिल्म का एक गाना बेहद रोमांटिक था और उसे फिल्माया जाना भी बहुत जरूरी था। कमाल अमरोही ने उनकी आंखों से ही प्यार बरसाने की कोशिश करवाई थी, दोनों को साथ में ज्यादा ना दिखाकर उन्होंने खूबसूरत मौसम और रोमांटिक नजारों पर ज्यादा फोकस किया था। वह गाना था- चलो दिलदार चलो, चांद के पार चलो.

फिल्म ‘पाकीजा’ में यह युगल गीत तब आता है जब दोनों की कैंप में पहली बार मुलाकात होती है। इसके बाद कमाल अमरोही ने अपनी किसी भी फिल्म में राजकुमार को नहीं लिया। राजकुमार और मीना कुमारी की इस जोड़ी ने फिल्म ‘दिल अपना और प्रीत पराई’ में भी साथ काम किया। लेकिन कहा जाता है कि फिल्म ‘काजल’ उन्होंने मीना कुमारी के साथ इसलिए की थी क्योंकि इसमें उनके साथ उन्हें रोमांस का खूब मौका मिल रहा था। अभिनेता राजकुमार रोमांटिक हीरो नहीं थे। फिल्म ‘काजल’ का एक बेहद रोमांटिक गाना “छू लेने दो नाजुक होठों को कुछ और नहीं हैं जाम है ये, कुदरत ने जो हमको बख्‍शा है, वो सब से हसीं इनाम है” जो की राजकुमार और मीना कुमारी के बीच फिल्माया जाना था। लेकिन निर्मातानिर्देशक राम माहेश्वरी यह कहने में हिचकिचा रहे थे, लेकिन जैसे ही राजकुमार को इस बात का पता चला तो वह उछल पड़े और बोले कि, “कौन नहीं चाहेगा मीना जी के साथ रोमांस करना।” इस फिल्म में धर्मेंद्र भी थे, लेकिन मीना और राजकुमार ने खूब सुर्खियां लूटी थीं।

Advertisment

POST YOUR COMMENTS

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2020 News18Network | Derben Clove by News18Network Our Partner Indian Business And Mobile Technology