Monday, 28/11/2022 | 5:37 UTC+0
Breaking News, Headlines, Sports, Health, Business, Cricket, Entertainment

बकरी की Potty बेचकर हो रहे अमीर, कीमत जानकर आप रह जायेंगे हैरान

goat potty

आपने क्या कभी सोचा है कि बकरी की पोट्टी भी कीमती हो सकती है। शायद आपको लग रहा होगा की हम मजाक कर रहे हैं पर ये बिल्कुल भी मजाक नहीं हैं। मोरक्को में लोग बकरी की पोट्टी बेचकर लाखो कमा रहें हैं आखिर क्यों इतनी कीमती हैं यहाँ बकरी की पोट्टी…

अगर आप साउथ वेस्ट मोरक्को और अल्जीरिया के इलाकों में जायेंगे तो आपको पेड़ पर चिड़ियों की जगह बकरियां नजर आ जाएंगी। इन बकरियां को पेड़ों पर चढ़कर इनमें लगे फल खाना काफी पसंद हैं। बकरियों के मालिक भी इन्हें पेड़ों पर चढ़ने से नहीं रोकते क्योंकि इसी का फल खाने के बाद उनकी पोट्टी की कीमत लाखों हो जाती है।

अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ऐसा कौन से पेड़ का फल है, जो बकरियों की पोट्टी को लाखों करोड़ों का बना देती है। तो हम आपको बता देते हैं बकरियां आर्गन के पेड़ पर चढ़ती हैं। इसमें लगने वाले फल खाने में काफी स्वादिष्ट होते हैं। जिसे बकरियां खाना काफी पसंद करती हैं। लेकिन इस फल के बीज इनकी बॉडी पचा नहीं पाती और उन्हें पोट्टी के जरिए बॉडी से बाहर निकाल देती हैं। इसके बाद गांव वाले अपने काम पर लग जाते हैं।

क्या करते हैं पोट्टी का?
जब बकरियां पोट्टी करती हैं, तो गांव वाले उसे इकठ्ठा करते हैं। उनमें से बीज अलग कर अंदर मौजूद छोटी सी फली को निकाला जाता है। इस फली को भूनने के बाद इनसे आर्गन का तेल निकाला जाता है, जो कॉस्मेटिक इंडस्ट्री में काफी ज्यादा इस्तेमाल की जाती है। इस तेल के 1 लीटर बोतल की कीमत 70 हजार से ज्यादा होती है।

पोट्टी बेचकर हो रहे अमीर

इन देशों में पिछले कुछ सालों से आर्गन के तेल का बिजनेस काफी तेजी से बढ़ रहा है। इन लोगों को इंडस्ट्रीज वाले, बकरी की पोट्टी से निकलने वाले तेल के बदले अच्छी खासी कीमत देते हैं। बकरियों के पेड़ पर चढ़ने से कुछ टहनियों को नुकसान भी पहुंचता है, लेकिन जिन इलाकों में महिलाएं हाथ से आर्गन के बीज इक्कट्ठा करती हैं, वहां हालात और बुरे हो जाते हैं। इसलिए इस काम के लिए बकरियों का इस्तेमाल किया जाता है।

Advertisment

POST YOUR COMMENTS

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2022-23 News18Network | Derben Clove by News18Network Our Partner Indian Business And Mobile Technology