Wednesday, 6/7/2022 | 12:27 UTC+0
Breaking News, Headlines, Sports, Health, Business, Cricket, Entertainment

दिल्ली ने हैदराबाद को छह विकेट से हराया

ipl-delhi-2win

20 मई शुक्रवार के दिन सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान डेविड वार्नर को करुण नायर का कैच छोड़ने का बड़ा भारी बढ़ गया। करुण नायर ही एक ऐसे बल्लेबाज थे जिनकी वजह से अंतिम गेंद पर दिल्ली डेयरडेविल्स को बेहतरीन तरीके से जीत दिला दी। सनराइजर्स हैदराबाद छह विकेट से दिल्ली से हार गयी। हालांकि अपनी इस बेहतरीन पारी में करुण नायर 83 रन बनाकर नाबाद रहे।  आईपीएल २०१६ में इस जीत के साथ दिल्ली ने प्लेऑफ में शामिल होने की अपनी उम्मीदों को कायम रखा है इसके साथ ही रविवार को बंगलोर के खिलाफ मैच में दिल्ली का जितना बेहद जरुरी है।

टॉस जीतकर दिल्ली डेयरडेविल्स ने पहले बल्लेबाजी करने के लिए सनराइजर्स हैदराबाद को आमन्त्रित किया। हैदराबाद टीम के कप्तान डेविड वार्नर ने 56 गेंदों पर 73 रन बनाये और सात विकेट के नुकसान पर 158 रन का स्कोर विपक्षी टीम के लिए खड़ा किया। उधर दिल्ली ने चार विकेट के नुकसान पर 161 रन बनाकर जीत अपने खाते में दर्ज की।  दिल्ली के क्विंटन डी कॉक ने अपना विकेट जल्द ही गंवा दिया था लेकिन वही दूसरे विकेट पर क्रीज पर आये करुण नायर और युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत ने 73 रन की शानदार साझेदारी निभाई और टीम कोएक और जीत दिलाई। दिल्ली ने शुरू के दस ओवरों में 68 रन बना लिए थे। लेकिन 12वें ओवर में ऋषभ पंत रनआउट हो गये। उस वक्त टीम को जीत के लिए 50 गेंदों में 77 रन की आवश्यकता थी।

उसके बाद दो कैच हैदराबाद टीम ने लिए। तभी कप्तान डेविड वार्नर ने नायर का कैच 51 रन के निजी स्कोर छोडकर उन्हे जीवनदान दिया। फिर डुमिनी का कैच भुवी ने छोड़ा हालांकि इसके बाद डुमिनी अगली गेंद पर 17 रन पवेलियन लौट गए। मुस्ताफिजुर ने  ब्रेथवेट को अपना शिकार बनाया। दिल्ली को 11 रन की जरूरत अंतिम छह गेंदों पर थी और इसके बाद पहली चार गेंदों पर पांच रन बने। जीत के लिए अंतिम दो गेंदों पर छह रन की जरूरत थी तभी मिडआफ पर करुण नायर ने एक चौका मारा। अब जीत के लिए अंतिम गेंद पर दो रन की जरूरत थी और फिर से नायर ने मिडआन पर बेहतरीन चौका मारते हुए हैदराबाद को हरा दिया।

इस सीजन में हैदराबाद के कप्तान वार्नर ने अपना सातवां अर्द्धशतक पूरा किया। हैदराबाद को शुरुआत में ही झटके लगे थे जब शिखर धवन महज 10 रन बनाये और दीपक हुड्डा 01 रन बनकर चलते बने । टीम को युवराज सिंह से काफी उम्मीदे थी लेकिन वो भी ब्रेथवेट की गेंद पर आउट हो गये। कप्तान वार्नर ने एक ओर मैच को संभाल रखा था और दूसरे ओर से विकेट गिरते जा रहे थे। हेनरिक्स ने 18 रन बनाकर डुमिनी की गेंद पर नेगी ने कैच। आतिशी शॉट खेलते समय ब्रेथवेट की गेंद पर वार्नर ने अमित मिश्रा को कैच दिया। मैच के अंत में 16 रन बनाकर नमन ओझा नाबाद रहे  और टीम के लिए 13 रन का योगदान भुवनेश्वर कुमार ने दिया।

Advertisment

POST YOUR COMMENTS

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2020 News18Network | Derben Clove by News18Network Our Partner Indian Business And Mobile Technology