Wednesday, 6/7/2022 | 12:03 UTC+0
Breaking News, Headlines, Sports, Health, Business, Cricket, Entertainment

आमदनी को बढ़ाने के लिए आजमाए ये आसन नुस्खे

AamdaniIncrease

जीवन की हर परिस्थिति में वास्तु शास्त्र सभी पर गहरा प्रभाव डालता है। यही वजह है की हर किसी को वास्तु से जुड़ी विशेष बातों और नियमों का पालन करना चाहिए। यही आपकी दुकान में उम्मीदों से कम आपकी आमदनी हो रही है तो वास्तु शास्त्र की कुछ आसान सी बातें आपकी सहायता करने के कारगर साबित होता हैं। यहाँ हम आपको वास्तु से जुडी कुछ महवपूर्ण बातो से परिचत करायेगे। जिनकी मदद से आप व्यपार से सम्बन्धित परेशानियों का निवारण सरलता से कर सकेगे।

वास्तु की इन बातो को अपनाने के बाद पाए लाभ –

1- अपनी दुकान के ईशान कोण (पूर्व-उत्तर दिशा) को खाली रखना चाहिए और दुकान में साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

2- भगवान् का मंदिर होंन आवश्यक है, दुकान में भगवान का एक छोटा ही सही पर मंदिर स्थापित करना जरुरी है, इससे ही भगवान् की कृपा आप पर पड़ेगी। रोजाना उस मंदिर में सुबह-शाम दीपक जरूर लगाना चाहिये।

3- व्यपार की आमदनी बढ़ाने के लिए दुकान के तिजोरी/ गल्ले में देवी लक्ष्मी मां की फोटो /मूर्ति जरुर रखे। अगर आप ऐसा नहीं कर सकते है तो चांदी/सोना का सिक्का भी देवी लक्ष्मी का प्रतीक समझकर कर रख सकते है।

4- इस बात का ध्यान रहे की दुकान, घर या फैक्ट्री के सामने कोई खंभा या सीढ़ी नहीं हो। इसका होना अशुभ समझा जाता है। यदि आपकी दुकान के सामने पेड़ या खंभा हो तो इस दोष के निवारण के लिए वास्तु नियम के अनुसार रोजाना मुख्य दवार पर ताजे फूल रखे इसके साथ एक स्वास्तिक भी बनाएं।

5- यदि आपकी दुकान में डबल शटर है तो दोनों शटरों को खुला ही रखें। अधिकतर लोग दुकान में दो शटर होने किव्झ से एक शटर को बंद क्र देते हैं, जो कि वास्तु शास्त की नजर में अशुभ होता है।

6- अधिक लाभ कमाने के लिए दुकान में रखे तराजू को पश्चिमी या दक्षिणी की दीवार के साथ किसी स्टेंड पर रखना चाहिए, वास्तु में इसे अच्छा माना जाता है।

7- दुकान में ईशान कोण यानी पूर्व-उत्तर दिशा में सीढ़ियां बिल्कुल नहीं होना चाहिए। यदि ऐसा है तो इसके बुरे परिणामों से बचने के लिए वास्तु के मुताबिक सीढ़ी के नीचे विंड चाईम को जरुर लगाना चाहिए।

8- अगर डबल शटर वाली आपकी दुकान में दोनों शटरों को खोल पाना असम्भव है या दुकाने के केवल एक ही शटर को खोल पाना संभव हो तब ऐसी परिस्थति में ईशान कोण यानी पूर्व-उत्तर दिशा में स्थित शटर को ही खुला रखन चाहिए।

Advertisment

POST YOUR COMMENTS

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2020 News18Network | Derben Clove by News18Network Our Partner Indian Business And Mobile Technology