Monday, 4/7/2022 | 3:50 UTC+0
Breaking News, Headlines, Sports, Health, Business, Cricket, Entertainment

अब नहीं दिखेंगे स्नैपडील के ऐड में आमिर खान

aamirkhan

हाल ही में आयी खबर के अनुसार स्नैपडील कंपनी के ऐड में अभिनेता आमिर खान अब नहीं दिखेगे। कंपनी ने आमिर खान के कॉन्ट्रैक्ट को रिन्यू नहीं करने का निर्णय लिया है। इस महीने के अंत में स्नैपडील के साथ आमिर की एक साल की डील समाप्त हो रही है। एडवर्टाइजिंग एक्सपर्ट्स इसे आमिर के असहिष्णुता के विवादित बयान से जुड़ा बता रहे हैं। स्नैपडील में कार्यरथ सूत्रों कर अनुसार, एक साल के लिए पहले ही डील बढ़ा दी गई थी। हालांकि इस वक्त स्नैपडील कंपनी ने ऐसा नहीं करने का निर्णय किया है। असहिष्णुता को लेकर हुए विवाद के बाद स्नैपडील ने आमिर खान का ऐड दिखाना बंद कर दिया था।
स्नैपडील कंपनी ने आमिर के साथ ‘दिल की डील’ के स्लोगन के साथ वाला ऐड बनाया था। गुड़गांव की विज्ञापन एजेंसी ‘बैंग इन द मिडल’ के साथी प्रबन्धक प्रताप सुल्तान के कहा की, मुझे लगता है कि कंपनी अपने ब्रांड एम्बेसडर के साथ बहुत ज्यादा ही सख्ती बरख रही है। हालांकि यह बयान आमिर खान का पूरा नहीं था। आमिर खान की लोकप्रियता को स्नैपडील कंपनी ने कोई महत्व ही नहीं दिया। यहा तक की कंपनी ने आमिर की उस काबिलियत को भी अनदेखा कर दिया, जिसके लिए आमिर बहुत पोपुलर हैं। साल 2004 में बीजेपी की ‘इंडिया शाइनिंग कैम्पेन’ और ‘टूरिज्म मिनिस्ट्री’ के अतुल्य भारत अभियान से भी आमिर जुड़े रहे हैं।

स्नैप’डील’ एक रीव्यू –फरवरी 2015 को कंपनी ने ब्रांड एम्बेसडर के तौर पर आमिर खान को साइन किय था।
मार्च 2015 में स्नैपडील ने आमिर को ‘दिल की डील’ कैम्पेन को लॉन्च किया।
नवंबर 2015 में आमिर के असहिष्णुता पर विवादित बयान चलते कंपनी ने दूरी बनाई।
फरवरी 2016 को स्नैपडील कंपनी ने फैसला किया कि आमिर खान से डील रिन्यू नहीं होगी।

क्यों उठा असहिष्णुता का मसलापिछले साल सितंबर में उत्तर प्रदेश के दादरी में एक शख्स की गोमांस रखने के शक में हत्या कर दी गई थी। इस घटना के पहले लेखक एम एम कलबुर्गी को गोली मारकर उसकी भी हत्या कर दी गयी थी। उस दिन अवॉर्ड वापसी की शुरुआत हुई। बहुत से लेखकों, फिल्म स्टार और वैज्ञानिकों ने देश में बढ़ते कथित असहिष्णुता के माहौल के खिलाफ में अवॉर्ड पुरस्कार लौटा दिए। इसमें स्टार आमिर खान, शाहरुख खान, संगीतकार एआर रहमान और अरुंधति रॉय जैसी हस्तियों ने इस मुद्दे पर बातचीत की जोकि विवादों में रहे। विरोधी पार्टी ने बीजेपी और उसके सपोर्टर्स पर देश में धार्मिक आधार पर तनाव भड़काने का आरोप लगाया था। अन्य कई केंद्रीय मंत्रियों ने कहा था कि कांग्रेस सहित कई पार्टियां सरकार की इमेज को खराब करने की कोशिश कर रही हैं।

मीडिया में फैली खबरों के मुताबिक यह कहा गया कि असहिष्णुता के विषय पर आमिर द्वारा दिए गए विवादित बयान के चलते ही उन्हें ‘अतुल्य भारत अभियान’ कैम्पेन से हटाया गया है। वही टूरिज्म का करार अतिथि देवो भव: का ऐड बनाने वाली कम्पनी मैक्केन से खत्म हुआ था। आमिर के असहिष्णुता बयान के कारण इसे सरकार का रिएक्शन मान लिया गया है।

Advertisment

POST YOUR COMMENTS

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2020 News18Network | Derben Clove by News18Network Our Partner Indian Business And Mobile Technology